October 31, 2020

Qatl-E-Aam (Unplugged) Lyrics & HD Video – Raman Raghav 2.0

Qatl-E-Aam (Unplugged) Lyrics & HD Video – Raman Raghav 2.0 :- This is first song from the movie Raman Raghav 2.0 and this song is sung by Sona Mohapatra. This music of this song is composed by Ram Sampath and this song is penned by Varun Grover.

Singer: Sona Mohapatra
Music: Ram Sampath
Qatl-E-Aam 2.0 (Unplugged) Lyrics: Varun Grover
Music Label: T-Series

Qatl-E-Aam (Unplugged) Lyrics & HD Video – Raman Raghav 2.0

Hai ganimat dil yeh patthar
Ho chuka tamaam hai
Hai ganimat dil yeh patthar
Ho chuka tamaam hai

Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai
Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai

Chhod ke saari sharam ko
Shaam ki chaukhat pare
Chhod ke saari sharam ko
Shaam ki chaukhat pare

Aaiye aa jaaiye..
Yeh raat ik hamaam hai
Aaiye aa jaaiye..
Yeh raat ik hamaam hai

Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai
Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai

Haan..
Sab sunaate hain ki humne
Haq hi kyun tumko diya.
Sab sunaate hain ki humne
Haq hi kyun tumko diya.

Jaan-e-jaan khud hi bataaye
Jaan-e-jaan khud hi bataaye
Yeh koi ilzaam hai

Aapki aankhon mein warna,
Aaj qatl-e-aam hai.
Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai

Hai sarafa dil ka
aur ye waqt bauni ka huaa
Hai sarafa dil ka
aur ye waqt bauni ka huaa

Laakh ki cheez sahab kodiyon ke daam hai
Laakh ki cheez sahab kodiyon ke daam hai
Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai
Aapki aankhon mein warna
Aaj qatl-e-aam hai

Hindi Translation

शुक्र है, इस पत्थर का दिल है
बन गया है सब
शुक्र है, इस पत्थर का दिल है
बन गया है सब

तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है
तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है

कोडा की सादी शर्म की बात है
शाम दरवाजे
कोडा की सादी शर्म की बात है
शाम दरवाजे

Aaiye हूँ jaaiye ..
इस रात इंद्रकुमार हम्माम है
Aaiye हूँ jaaiye ..
इस रात इंद्रकुमार हम्माम है

तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है
तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है

Haan ..
हम सभी बोलते हैं
आप मुख्यालय क्यों किया था।
हम सभी बोलते हैं
आप मुख्यालय क्यों किया था।

जान-ए-जान खुद को वर्णित
जान-ए-जान खुद को वर्णित
यह Ilzam है

तुम्हारी आँखों में वर्ण,
आज KTL-ए-आम है।
तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है

आभूषण दिल है
और बौना VKT था
आभूषण दिल है
और बौना VKT था

साहब Chiz लाख Kaudaion कीमतों है
साहब Chiz लाख Kaudaion कीमतों है
तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है
तुम्हारी आँखों में वर्ण
आज KTL-ए-आम है

Sona Mohapatra is the singer of this song and she is a talented and music of this song is composed by Ram Sampath. Varun Grover is the writer of the Qatl-E-Aam (Unplugged) and this song is from the movie Raman Raghav 2.0

Comments

comments