September 23, 2020

संकट मोचन कष्ट हरण हो With Hindi & English Lyrics| Sant Rampal Ji Shabad | BKPK VIDEO



संकट मोचन कष्ट हरण हो With Hindi & English Lyrics| Sant Rampal Ji Shabad | BKPK VIDEO

संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी….

पहले तो मोहे ज्ञान नहीं था, प्रेम बना ना तेरे में,, दीन जान कै माफ किजीयो, खता हुई जिन मेरे मैं। अनगिन अवगुण भरे मेरे मैं, माफ करो तकसीर। के आ गए शरण तेरी…. संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी….

या गीदड वाली रात चौरासी, आन गिरा हूँ झेरे में,, ऊंची ऊंची लाई छलांगा, यतन किए बहुतेरे मैं। काम क्रोध अंहकार लोभ की, मोटी लगी जंजीर । के आ गए शरण तेरी…. संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी…..

कर्म कुसंगत बहुत किए, वो जाते है नहीं कहे,, आ के आप संभालो दाता, चौरासी में जान बहे। जन्म मरण के कष्ट सहे, अब मेटो जम की पीर । के आ गए शरण तेरी…. संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी…..

गुप्त रुप में सब काम सारते, जो भी विपदा आन पडै,, एक दिन दर्शन देने होंगे, दीनदयाल यूं नही सरै। तुम बिन पापी नहीं तिरे, मेरा अवगुण भरा शरीर । के आ गए शरण तेरी…. संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी….

रज़ा तेरी से दादु नानक जी का, सतलोक में वास हुआ,, सौ सौ प्रश्न उत्तर किन्हें, तब धर्मदास कै विश्वास हुआ। भगत के कारण ख्वास हुआ, जागी सुलतानी की तकदीर । के आ गए शरण तेरी…. संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी….

पाव चनो के लालच में, या बंदर मूठ गई,, मूठ खुलै ना, जान बचै ना, हे साहिब ये कोन भई। रामपाल सतगुरु शरण लई, खाई शब्द दूध की खीर। के आ गए शरण तेरी…. संकट मोचन कष्ट हरण हो, मंगल करन कबीर, के आ गए शरण तेरी….

Read More:
_______________________________

Thanks For Watching….

Like, Share and Subscribe..

~ : Connect with us on social media : ~

website:
Twitter :
Youtube :
Instagram :
Blog Websites :
Mail : bkpkvideo@gmail.com

____________________________

Copyright Disclaimer

Under Section 107 of the Copyright Act 1976, allowance is made for ‘Fair Use’ for purposes such as criticism, comment, news reporting, teaching, scholarship, and research, Fair use is a permitted by copyright statute that might otherwise be infringing, Non-profit, educational or personal use tips the balance in favor of fair use.

source

Comments

comments